Posts

Showing posts with the label sports

4 गुना ज्यादा वजन उठा कर मीराबाई चानू ने गोल्ड मेडल अपने नाम किया

Image
टोक्यो ओलंपिक 2020 में भारत को सिल्वर मेडल लाकर देने वाली एथलीट मीराबाई चानू ने शनिवार को महिला वेटलिफ्टिंग में 49 किलो भार उठाकर एक कमाल का रिकॉर्ड बना दिया। स्‍नेच और क्‍लीन एंड जर्क राउंड के अंत में एथलीट मीराबाई चानू ने बड़े ही आसानी से वेटलिफ्टिंग उठा के गोल्ड अपने नाम कर लिया। दोनों राउंड को मिलाकर मीराबाई चानू ने कुल मिलाकर 201 किलो उठाया था। सिल्वर मेडल प्राप्त करने वाली मीराबाई चानू के निकटतम प्रतिद्वंद्वी ने 172 किलोग्राम उठाया था। ऐसा बताया जा रहा है कि वह दूसरे नंबर के खिलाड़ी से काफी आगे थी। 29 किलोग्राम से आगे रहते हुए मीराबाई चानू ने गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। मीराबाई चानू ने स्नैच राउंड मे अपने दूसरे राउंड में 88 किलो वजन उठाकर 12 किलो की लीड बना ली थी। पहले प्रयास में इन्होंने 84 किलो उठाया था। लेकिन स्नैच राउंड के तीसरे भाग में 90 किलो वजन उठाने से चूक गयी थी। इसके बाद मीराबाई चानू ने क्‍लीन एंड जर्क राउंड में पहले प्रयास में 109 किलो वजन उठा कर भारत को गोल्ड जितवा दिया था। जीत हासिल करने के बाद भी मीराबाई चानू रुकने का नाम नहीं ले रही थीं। इसके बाद उन्होंने दूसरे प

12 साल की उम्र में जंगल से लकड़ियां उठाने वाली मीराबाई चानू भारत के लिए आज गोल्ड मेडल लाने की तैयारी कर रही है

Image
  Image Credit: @Olympics मीराबाई चानू ने 12 साल की उम्र में अपने ज्यादा वजन उठाने का सबूत दे दिया था। वह अपने बड़ा भाई से  ज्यादा वजन की लड़कियों को बड़े ही आसानी से उठा लेती थी। इसके अलावा जंगलों से जलाने के लिए लकड़ियां इकट्ठा किया करती थी। बचपन में किया गया इनका यह प्रयास आखिरकार भविष्य में जाकर इनके काफी ज्यादा काम आ गया। आज मीराबाई चानू देश के वेटलिफ्टर में काफी ज्यादा आगे निकल चुकी है। रियो ओलंपिक में लचक प्रदर्शन के बाद इस भारोत्तोलक की आलोचना हुई थी। कॉमन वेल्थ गेम और फिर ओलंपिक में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद हर किसी की बोलती बंद कर दी थी। मीराबाई चानू एकमात्र ऐसी खिलाड़ी है जिन्होंने भारत को गोल्ड मेडल दिलवाया था। इसके बाद टोक्यो ओलंपिक में भारत को सिल्वर के रूप में पहला मेडल दिलाया था। सिल्वर मेडल भारत को दिलवाने की खुशी में मणिपुर के सीएम ने 1 करोड़ रुपए के नाम से सम्मानित किया था। आपको बताना चाहते हैं कि मीराबाई चानू अपने गरीब परिवार में जन्मी थी और 6 भाई बहनों में सबसे छोटी थी। मीराबाई चानू अपने 4 साल बड़े भाई सैखोम सांतोम्बा मीतेई  के साथ में पहाड़ी पर लकड़ी बीनने जाया कर

कोहनी में चोट लगने बाद भी प्रधानमंत्री ने विनेश फोगाट का बढ़ाया हौसला

Image
                                                       Image Credit : @Vineshphogat नमस्कार दोस्तों, हमारी वेबसाइट में आपका स्वागत है और आज हम बात कर रहे हैं विनेश फोगाट की ताजा खबरों के बारे में। आजकल सोशल मीडिया पर एक खबर वायरल हो रही है कि विनेश फोगट ने कॉमनवेल्थ गेम्स में लगातार 2 बार गोल्ड मेडल जीता और यह पूरे भारत के लिए बहुत अच्छी खबर है। अपनी पूरी जानकारी शुरू करने से पहले हम आपको बताना चाहते हैं कि कौन हैं विनेश फोगाट। अगर आप जानना चाहते हैं तो हमारे साथ अंत तक जुड़े रहें। हम आपको बताना चाहते हैं कि विनेश फोगाट एक कुश्ती खिलाड़ी हैं और वह 48 किलोग्राम कुश्ती की श्रेणी में आती हैं। अब हम आपको कुश्ती खिलाड़ी विनेश फोगाट के बारे में कुछ तथ्य बताएंगे। पहले हम आपको बताना चाहते हैं कि विनेश फोगाट कभी ड्रग्स नहीं लेती हैं और वह बचपन से ही अपनी मां के साथ रहती हैं। लेकिन अब समय आ गया है आपको विनेश फोगाट के बारे में पूरी ताजा खबर बताने का। ऐसा बताया जा रहा है की विनेश फोगाट को टोकियो ओलंपिक में हार मिलने के बाद पिछले साल प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा सितंबर में अपने आवास पर बुलाया गया था

2016 से 2022 के सफर में नीरज चोपड़ा ने भाला फैक सैकड़ो पदक अपने नाम किये

Image
                                                Image Credit: YashSD/Shutterstock  नीरज चोपड़ा का नाम तो आप सभी जानते है और इन्होने जिस भी चैंपियनशिप में भी भाला फैका है वहा पर वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है। लेकिन आज हम आपको नीरज चोपड़ा के रिकॉर्ड के बारे में जानकारी देने वाले है। neeraj chopra achievements in hindi के बारे में आज हर कोई सर्च करता है। 2016 में इन्होने पहली बार जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में इन्होने 86.48 मीटर भाला फैक कर अपनी सफलता की शुरुवात की थी। इसके बाद 2018 से लेकर 2020 तक कॉमनवैल्थ गेम से लेकर एशियन चैम्पियनशिप से लेकर टोक्यो ओलंपिक में रिकॉर्ड तोड़ने के साथ साथ अब 2022 में अब पदक हासिल करने वाले पहले पुरुष एथलीट में अपना नाम दर्ज करवा लिया है।   2022 के वर्ल्ड एथेलेटिक्स चैम्पियशिप के बारे में बात करे तो यहाँ पर नीरज चोपड़ा ने अपने चौथे राउंड में 88.13 मीटर दूर तक भाला फैक कर रजत पदक अपने नाम कर लिया है। नीरज चोपड़ा के चाहने वाले और भारत के लिए ये गर्व की बात है की 19 साल बाद विश्व एथेलेटिक चैम्पियनशिप में कोई रजत पदक जीता गया है। नीरज चोपड़ा के अलावा 2003 में अंजू बॉबी ज